Breaking News

div id='beakingnews'>Breaking News:
Loading...

चप्पल हाथ में ले कीचड़ से गुजर रहे करमा गांव के ग्रामीण--आकाश कुमार सिंह



आकाश सिंह,मयूरहंड : प्रखंड के करमा पंचायत का करमा गांव जाने वाला मुख्य मार्ग इन दिनों कीचड़ में तब्दील हो गया है। सड़क पर उत्पन कीचड़ व गड्ढे से चलना मुसीबत सा बन गया है। ग्रामीणों को अपने गांव पहूंचने व गांव से बाहर निकलने को लेकर पैर में पहनने वाला चप्पल हाथ में लेकर जाना पड़ रहा है। जो प्रखंड के विकास को बता रहा है। जानकारी के अनुसार इटखोरी से हजारीबाग जाने वाली मुख्य मार्ग से एक किलो मीटर की दुरी पर स्थित गांव विकास का नाम भी नहीं जानता है। विकास को लेकर गांव में एक भी कार्य नहीं हुआ है। ग्रामीण सह समाज सेवी डॉ मनोज कुमार ने बताया की पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश के कारण सड़क नाला बन गया है। जिसके कारण सड़क पर आना जाना न के बराबर हो गया है। लोग घरों में क़ैद हो गए है।जर्जर सड़क पर उत्पन गड्डो में दो फिट तक पानी भरा हुआ है। जो दुर्घटना को आमंत्रित कर रहा है। बताते चले की जर्जर सड़क पैदल चलने लायक तक नहीं बच पायी है। ग्रामीणों ने सड़क निर्माण को लेकर कई बार गांव की सरकार से सड़क को दुरुस्त करने की मांग की है। मगर जनप्रतिनिधि के द्वारा पांच वर्षो में भी सड़क को दुरुस्त नहीं किया जा सका है। सड़क के जर्जर होने के कारण आने जाने वालो को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोग कीचड़ से चल कर अपने गांवों तक पहूंच रहे है। ग्रामीणों ने बताया की यदि सड़क का निर्माण समय रहते नहीं हुआ तो पंचायत चुनाव के समय किसी भी नेता को गांव में घुसने नहीं दिया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं