Type Here to Get Search Results !

किसान की बेटी बनी विद्यालय टॉपर, arth views, aakash



मयूरहंड : किसी ने सही कहा है कुछ पाने के लिए जी जान से मेहनत करने की आवश्कयता है। तभी सफलता आपका कदम चूमेगी। कुछ ऐसा ही कार्यनाम इटखोरी प्रखंड स्थित करनी पंचायत के बमन्डीहा गांव निवासी देवदत्त सिंह की पुत्री स्वेता कुमारी ने किया है। गरीबी से जूझती हुई स्वेता ने अपने परिश्रम के बल पर विद्यालय टॉपर का खिताब प्राप्त किया। स्वेता इंटर की कला संकाय में विद्यालय टॉप किया है। स्वेता को कुल 357 अंक प्राप्त हुए है। स्वेता ने बताया की माता पिता की माली हालत देखकर मेरा नामांकन वर्ग छह में कस्तूरबा बालिका आवासीय विद्यालय में कराया गया। जिसके बाद से मैं उसी विद्यालय में पढ़ती आ रही हूँ। स्वेता ने बताया की मेरे पिता किसान है और हम छह बहन होते है। मैं आगे की पढाई इसी प्रकार चालु रखना चाहती हूँ। मैं आगे पढ़कर शिक्षिका बनना चाहूंगी। मेरी सफलता के पीछे मेरे माता पिता व विद्यालय के शिक्षक व शिक्षिकाओ का अहम योगदान है। बताते चले की स्वेता की बड़ी बहन मिक्की कुमारी ने भी पांच वर्ष पूर्व कॉमर्स संकाय में भद्रकाली महाविद्यालय की टॉपर रही थी। बेटी की सफलता से परिजन फुले नहीं समा रहे है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.