Breaking News

div id='beakingnews'>Breaking News:
Loading...

मौत को निमंत्रण दे रहे बिजली के तार-आकाश


मौत को निमंत्रण दे रहा 11 हजार का झूलता तार

मयूरहंड : गलती बिजली विभाग का और भुगते ग्रामीण। हां कुछ ऐसा ही मामला प्रकाश में आया है। प्रखंड के गम्हरिया गांव में 11 हजार का झूलता तार यही दर्शा रहा है। झूलता तार खेतों से पांच फिट के ऊपर से गुजरा है। जो दुर्घटना को निमंत्रण दे रहा है। ग्रामीणों प्रतिदिन अपनी जान जोखिम में डालकर अपने खेतों तक पहूंच पाते है। किसानो को खेतों से फसल लाने को लेकर भारी मुसीबत का सामना करना पड़ता है। किसान किसी प्रकार फसल के बोझा को माथे पर ढोने के बजाय हाथ से पकड़ कर सड़क तक लाते है। उसके बाद गाड़ी के सहारे अपने खलिहान तक पंहुचा पाते है। जिस खेत के ऊपर से 11 हज़ार का तार गुजरा है। उस किसान ने दुर्घटना के डर से उस खेत में खेती करना तक छोड़ दिया है। युवा नेता ललन सिंह ने बताया की एक बार गांव के किसान माथे पर धान का बोझा लेकर जा रहे थे। तभी झूलते तार में बोझा फंस गया। जिससे कुछ जलने की सुंगध आने लगी। आस पास खेतों में कार्य कर रहे किसानों ने तुरन्त उसे माथे पर रखा बोझा को फेकने को कहा। तब जाकर युवक की जान बच पायी थी। ग्रामीणों ने बताया की कई बार बिजली विभाग के जेई को झूलते तार से अवगत कराया गया है। लेकिन अभि तक झूलते तार को हटाने का कार्य नहीं किया जा सका है। वही बिजली विभाग के कर्मचारी कान में तेल डाल कर सोये है। ग्रामीणों ने बताया की छोटे छोटे बच्चों को झूलते तार के साथ कई बार खेलते भी देखे गया है। ग्रामीणों ने कई बार बच्चों को झूलते तार से खेलते देखकर मना भी किया हैं। लेकिन बच्चे मानते नहीं है। यदि समय रहते तार को वहां से नहीं हटाया गया तो बहुत बड़ी दुर्घटना घटने से इंकार नहीं किया जा सकता।

कोई टिप्पणी नहीं