Breaking News

div id='beakingnews'>Breaking News:
Loading...

शहीद शक्ति सिंह ट्रॉफी पर खूटरा टीम ने जमाया कब्जा

शहीद शक्ति सिंह ट्रॉफी पर खूटरा टीम ने जमाया कब्जा

1-0 से खूटरा की टीम ने कुण्डवा की टीम को किया परास्त

रिपोर्ट : आकाश सिंह

संवाद सूत्र,मयूरहंड : पूरा खेल सौहार्दपूर्ण वातारण में खेल गया। दोनों टीमों की जितनी तारीफ की जाए कम होगी। दोनों टीमों द्वारा खेला गया खेल इंटरनेशनल खेल की याद दिला गयी। दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने अद्भुत खेल का प्रदर्शन किया हैं। हार व जीत तो होनी है। एक टीम को हारना है व दूसरे टीम को जितना है। जो टीम आज हार का स्वाद चखा है वही कल होकर जीत का स्वाद चखेगा। हार से अपनी गलती का अहसास होता है। ताकि आने वाले मैच में दुबारा उस गलती को दुहराया नही जा सके। उक्त बातें शहीद शक्ति सिंह व शहीद प्रदीप महतो नॉकआउट दिवा रात्री फुटबॉल टूर्नामेंट के फाइनल मैच के समाप्त होने पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रमुख विक्रम सिंह ने कही। उन्होंने दोनों टीम की खूब तारीफ की। उन्होंने टीमों को इसी प्रकार भाईचारे के साथ खेलते रहने का बात कही। वही विशिष्ठ अतिथि समाज सेवी संजय सिंह ने कहा कि मैं दोनों टीमों के खेल को देखकर दंग रह गया हूँ। जो मजा टीवी पर मैच देखने को मिलता है वही मजा आज मयूरहंड स्टेडियम में देखने को मिला है। दोनों टीमो ने जबदस्त खेल का प्रर्दशन किया है। आयोजन समिति ने बहुत बेहतर तरीके से खेल का आयोजन कराया है। फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन दुर्गा क्लब के बैनर तले किया गया था। प्रखंड मुख्यालय स्थित स्टेडियम में रविवार देर शाम को शहीद शक्ति सिंह व शहीद प्रदीप महतो दिवा रात्री फुटबॉल टूर्नामेंट का फाइनल मैच खेला गया। फाइनल मैच ईचाक के खूटरा टीम बनाम बरही के कुण्डवा टीम के बीच खेला गया। जिसमें खूटरा की टीम ने कुण्डवा की टीम को 1-0 से हरा कर शहीद शक्ति सिंह व शहीद प्रदीप महतो ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। दोनों के बीच बहुत ही रोमांचक मैच खेला गया। पूरा मैच दूधिया रौशनी में खेलाया गया। वही मुख्य अतिथि विक्रम सिंह व विशिष्ठ अतिथि संजय सिंह ने संयुक्त रूप से टूर्नामेंट में विजेता बनी खूटरा की टीम को प्रथम पुरस्कार के रूप में 15000 हज़ार रुपये नगद व बड़ा शील्ड देकर सम्मानित किया। उसी प्रकार टूर्नामेंट में उपविजेता बनी कुण्डवा की टीम को आयोजन समिति के अध्यक्ष अनिल सिंह,सचिव बीरबल साव,सेवानिर्वित सैनिक सुभाष सिंह ने संयुक्त रूप से दूसरा पुरस्कार के रूप में 10000 नगद व छोटा शील्ड देकर पुरस्कृत किया। टूर्नामेंट के दौरान बेस्ट गोलकीपर के लिए कृष्ण कुमार,मैन ऑफ द सीरीज नवाज खान,मैन ऑफ द मैच जितेंद्र कुमार व बेस्ट निर्णायक में छोटू कुशवाहा का चयन कर पुरस्कृत किया गया। टूर्नामेंट को सफल बनाने के धनज्जय सिंह,संजय कुशवाहा,अजित कुमार,पिंटू राणा,छोटू कुशवाहा,राहुल पासवान,पंकज पांडेय,महेंद्र नायक,छोटी सिंह,बिट्टू सिंह,अमर कुमार,बबलू कुमार,डब्लू कुमार,सुरेंद्र राणा,चलितर कुशवाहा, लोकेश ठाकुर सहित अन्य ने मुख्य भूमिका निभायी।

कोई टिप्पणी नहीं