Breaking News

div id='beakingnews'>Breaking News:
Loading...

मयूरहंड में बलिदानी शक्ति सिंह के नाम पर बनेगा पार्क_Mayurhand_Chatra

मयूरहंड में बलिदानी शक्ति सिंह के नाम पर बनेगा पार्क

पांचवी शहादत दिवस के मौके पर विधायक ने किशुन कुमार दास की घोषणा,विधायक फंड से उपलब्ध कराएंगे राशि

नम आंखों से विधायक ने दिया शहीद को श्रद्धांजलि

दैनिक जागरण

आकाश सिंह

मयूरहंड : शहीद की शहादत सदियों तक भुलायी नही जा सकती। शहीद शक्ति सिंह की यादें सभी के दिलों में बसती है। धन्य है ये भूमि जिसने शहीद को जन्म दिया। ऐसे शहीद  जवान के कर्तव्य से ही सीना चौड़ा हो जाता है। मैं नमन करता हूँ शहीद के माता पिता को जिसने ऐसे संस्कार देकर अपने एकलौते पुत्र को देश पर बलिदान होने को लेकर तिलक लगाकर रवाना किया था। आज के परिवेश में शहीद शक्ति सिंह युवाओ के आइकन के रूप में जाने जाते है। युवा पीढ़ी शहीद शक्ति के मार्ग पर चलने की प्रेरणा ले रही है। उक्त बातें शहीद शक्ति सिंह के पांचवी शहादत दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित सिमरिया विधायक किसुन कुमार दास ने कही। विधायक ने कहा शहीद शक्ति की याद में शहीद पार्क का निर्माण विधायक मद से कराया जाएगा। शहीद स्मारक को एक पार्क के रूप में परिवर्तित करने की योजना की जानकारी दी। उन्होंने कहा अगले बार शहीद की पुण्यतिथि शहीद पार्क में मनाया जाएगा। जो प्रखंड की पहचान होगी। वही प्रमुख विक्रम कुमार सिंह ने कहा कि शहीद शक्ति सिंह आज भी हमारे बीच है। शक्ति सिंह हर फौजी के रूप में सीना ताने खड़े है। उन्होंने विधायक से मयूरहंड स्टेडियम का नाम शहीद शक्ति सिंह रखने की मांग रखी। सभा को संबोधित करते समाज सेवी संजय सिंह ने कहा कि जिस प्रकार शहीद की प्रतिमा स्थापित करने को लेकर भाजपा नेता योगेंद्र प्रताप सिंह,पत्रकार आकाश सिंह,संजय सिंह,पिन्टू राणा सहित युवकों ने जी जान मेहनत कर प्रतिमा स्थापित किया था। हम सभी का फर्ज बनता है कि हमलोगों मिलकर प्रतिमा को सवारने का कार्य करे। उन्होंने विधायक से प्रतिमा स्थल को सजाने की मांग रखी। कार्यक्रम की शुरुआत विधायक किसुन कुमार दास,शहीद के पिता अधिवक्ता संत सिंह,ससुर अनिल सिंह,प्रमुख विक्रम सिंह,थाना प्रभारी कौशल कुमार सिंह सहित ने शहीद की प्रतिमा पर मालार्पण कर किया गया। तत्पश्चायत शहीद की तस्वीर पर दीप जलाकर आत्मा की शांति को लेकर सभी ने प्रार्थना की। जिसके बाद झारखंड आवासीय बालिका विद्यालय की छात्राओ ने तेरी मिट्टी में मिल जावा का गीत गाकर पूरे माहौल को गमगीन कर दिया। बताते चले कि जम्मू कश्मीर के बारामुला में दुश्मनों से लोहा लेते हुए 17 अगस्त 2016 को शहीद हुए थे शक्ति सिंह।।

पिता ने पुत्र की प्रतिमा को दुलार कर चूमा

ऐसा क्या खता हो गयी मुझसे जो इतनी दूर चले गए तुम। पुत्र की प्रतिमा को देख कुछ ऐसा ही सोच कर दुलारते दिखे शहीद के पिता। आंखों से छलकते आंसू पिता के गम को बांया कर रहा था। लेकिन अपने बहते आंसू को छिपाते पिता बार बार उसे पोछते। फिर पुत्र की प्रतिमा पर हाथ फेरते और मन ही मन बहुत कुछ बोल देते। कभी प्रतिमा की गाल को सहलाते,तो कभी टोपी को सीधा करते। ऐसा लग रहा था जैसे पिता और पुत्र में कुछ बातें हो रही हो। पिता अपने पुत्र को अपने गम बताने का कार्य कर रहे हो। पिता व पुत्र का मिलन देख सभी की आंखे भर आयी। सभी के रोंगटे खड़े हो गए। ऐसे लगा जैसे समय ही रुक गया है।।

पूर्व सैनिकों की टोली ने प्रतिमा को देख किया सैलूट

झारखंड प्रदेश के पूर्व सैनिक की टोली ने शहीद शक्ति सिंह की प्रतिमा पर मालार्पण कर सैलूट किया। सभी ने बारी बारी से शहीद को सैलूट कर श्रद्धांजलि दिया। पूर्व सैनिक ट्रस्ट के अध्यक्ष अरविंद ओझा,चंदशेखर सिंह,राम किंकर सिंह सहित ने प्रतिमा की आरती उतारी। उन्होंने कहा मेरे यार बिछड़ा है हम सभी। शहीद को कभी भुलाया नही जा पाकेगा। प्रतिमा को सैलूट करता देख सभी का सीना गर्व से चौड़ा हो गया। सभी ने एक स्वर में शहीद शक्ति सिंह का नारा लगाकर माहौल को गूँजमान कर दिया। इस मौके पर मुखिया ईश्वर पासवान,समाज सेवी संजय सिंह,रामनाथ यादव,भाजपा नेता अछेवत पांडेय,रसिक शिरोमणि,प्रताप सिंह,रणधीर सिंह,पिन्टू सिंह,अरविंद सिंह,बौद्ध नारायण भगत,चंद्रदेव गोप,अश्वनी सिंह,अशोक भुंइया,सुभाष सिंह सहित अन्य उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं