Type Here to Get Search Results !

चुनाव आया नही,प्रत्यासी घोषित हुए नही,पर चढ़ने लगा है चुनाव का रंग

चुनाव आया नही,प्रत्यासी घोषित हुए नही,पर चढ़ गया है चुनाव का रंग आकाश सिंह मयूरहंड : जी सही पढ़ा आपने। चुनाव की घोषणा हुई नही है अभी और चुनाव लड़ने के इच्छुक उम्मीदवार घर घर अपना पलड़ा भारी करने को लेकर दिनरात मेहनत करने में लग गए है। उम्मीदवार को यह भी पता नही है कि चुनाव होगा या फिर बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर स्थगित कर दिया जाएगा। इसके बावजूद उम्मीदवार वोटरों को रिझाने को लेकर अभी से चौकी देने लगे है। गांव के चौक चौराहे व चाय के दुकानों पर अभी से ही प्रत्यासी जीत व हार का समीकरण बनाने में लगे है। चाय की चुस्की लेते लेते कई उम्मीदवार भी तय कर दिए जा रहे है। सबसे ज्यादा दौड़ मुखिया पद को लेकर चल रहा है। उम्मीदवार सुबह होते ही वोटरों का हाल जाने को लेकर घर से निकल जा रहे है। एक वोटर ने बताया कि वर्तमान जनप्रतिनिधि पांच वर्षो में पहचाना तक भूल गए थे। वही सुबह होते ही दरवाजा पर दस्तक देने पहूंच रहे है। ताज्जुब तो तब हो रहा है। जब वो रुके हुए कामों को पलभर में करने को लेकर हामी भी भर रहे है। जो कल तक कार्य नही होने का बात करते थे। देर रात तक चौक चैराहे पर समीकरण बन व बिगड़ रहा है। बताते चले कि चुनाव का होना तय तक नही हुआ है। लेकिन उम्मीदवार घोषित होने लगे है। सोशल मीडिया में उम्मीदवारों की तस्वीर तैरने लगी है। जो फिलहाल चर्चा में है। गांवो व प्रखंडो में बने व्हाट्सप्प ग्रुप खूब उम्मीदवारों को चुनाव लड़ाने का कार्य कर रहे है। फिलहाल चुनाव कब होगा ये तो चुनाव आयोग ही बता सकता है। लेकिन उम्मीदवारों की मेहनत अभी से ही होने लगी है।।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.