Type Here to Get Search Results !

सुशी सक्सेना इंदौर की दिल को छूने वाली रचनाएं_ss

साहिब, खुद से भी एक वादा करना है।
मंजिल तक पहुंचने का इरादा करना है।
नित नए संघर्ष होंगे, जीवन के पथ पर,
मगर सवार हो कर, उत्साह के रथ पर।
कांटों भरा हो या फूलों भरा, जारी ये सफ़र रखना,
कदम जमीं पर हो, और आसमां पर नजर रखना।
मुश्किलें सर झुका दें, तेरे कदमों पर,
नित नए तुफां होंगे, जीवन के पथ पर,
नईया जब डगमगाने लगे तो धैर्य न खोना,
कदम जब लड़खड़ाने लगे तो तुम मत रोना।
खुद पे विश्वास और खुदा का जो साथ होगा,
सफलता का दामन, फिर तेरे हाथ होगा।
लहरा तो दुनिया में अपने साहस का परिचम
दिखला दो कि हम नहीं हैं, किसी से कम
झुकना नहीं है, किसी भी तुफान के आगे,
बस मंजिल तक पहुंच जाएं, ऐसे बढ़ाओ कदम


*****

न मैं बंदिश जानूं न बहर,
मेरे मन में उठती रहती है,
हर वक्त शब्दों की लहर।
जिसमें मेरे अहसासों और जज्बातों का,
एक गुबार भरा होता है।
बस उसी गुबार को निकालने के लिए,
कागज कलम का सहारा लेती हूं।
और अपने मन की बातें लिखती हूं।
अब वह गजल बनें या कविता,
इससे........क्या फर्क पड़ता है।
मेरा उद्देश्य तो बस लोगों तक, 
अपने मन के अहसास पहुंचाने का है।
जो मेरे लवों तक आने में हिचकिचाते हैं।
और यदि भरा रहता गुबार दिल में,
तो आराम न मिलता।
खुद को सुकून देने का,
इससे अच्छा जरिया न मिलता।

******
रूह का टुकड़ा

साहिब, जैसे कलम से मेरा कोई रूहानी नाता है।
सब कुछ समझ लेती है वो, जो भी दिल में आता है।

रूह का एक टुकड़ा, उसमें जरूर शामिल होता है,
मेरी कलम से जो कुछ भी, हरपल लिखा जाता है।

इक इक लफ्ज़ में वो गहराई होती है कि मत पूछो,
हर पढ़ने वाले का दिल, इसमें हमेशा डूब जाता है।

जैसे लोग मय पीकर, अक्सर मतवाले हो जाते हैं,
मेरी रूह को भी कभी कभी, लिखने का नशा चढ़ जाता है।

****

शब्दों में सामंजस्य बिठाने की कला हमें आती है।
सुरों में सजाकर गीत बनाने की कला हमें आती है।

हुनर रखते हैं रस घोलने का अपनी रचनाओं में,
तरानों को मधुर बनाने की कला हमें आती है।

लिख देते हैं कलम से, जी भी दिल में आता है,
 कागज पर अरमान निकालने की कला हमें आती है

पत्थरों से टकराते रहना बहुत भाता है हमें, क्योंकि
आईने की तरह टूट जाने की कला हमें आती है।

शौक रखते हैं हम भी अश्कों को छुपाने का,
इस नमी के साथ मुस्कुराने की कला हमें आती है।

सुशी सक्सेना इंदौर मध्यप्रदेश
Tags

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
Meenu ने कहा…
अति उत्कृष्ट रचनाएं बहुत-बहुत